माला ‘डी’ गर्भनिरोधक गोली क्या है

51

माला ‘डी’ गर्भनिरोधक गोली क्या है | mala ‘d’ tablet detail in hindi

इस दवा का प्रयोग मुख्यतः प्रेगनेंसी को रोकने के लिए प्रयोग किया जाता है | माला ‘डी’ के सेवन से गर्भाशय में यह शुक्राणु और अण्डे को आपस में मिलने से रोकती है | माला डी गर्भनिरोधक गोली । mala d tablet uses in hindi . माला डी गर्भनिरोधक गोली खाने का तरीका ।

जिससे प्रेगनेंसी का खतरा नहीं रहता है | इससे महिलाओं की मासिक धर्म भी सुरक्षित रहती है | इस दवा को कभी भी अपने आप प्रयोग नहीं करना चाहिए | इसे डॉक्टर की देखरेख में ही करना चाहिए | 

माला ‘डी’का उपयोग | mala ‘d’tablet uses in hindi 

यह एक सुरक्षित दवा के रूप में प्रयोग किया जाता है | लेकिन इसके कुछ साइड इफ़ेक्ट होने के कारण इसे डॉक्टर के गाइड में ही प्रयोग करे | 

इस दवा को खाना खाने के बाद प्रयोग करना चाहिए | इसे पानी से लेना ठीक है | इस दवा को जीभ पर पीसना नहीं चाहिए | इसे पानी से निगल लेना चाहिए | 

इसकी खुराक नियमित रूप से डॉक्टर की देखरेख में रोजाना प्रयोग करे | लेकिन इसे अपने मर्जी से बहुत अधिक दिनों तक अपने आप प्रयोग नहीं करना चाहिए नहीं तो गंभीर परिणाम हो सकते है | अगर शरीर में किसी भी प्रकार की कोई समस्या पहले से है | तो इस दवा का प्रयोग डॉक्टर से पूछकर करे | 

माला ‘डी’गर्भनिरोधक गोली खाने का तरीका | mala ‘d’tablet dose

इसकी खुराक महिलाओं के आयु पर निर्भर करती है | इसे डॉक्टर से पूछताछ के बाद ही प्रयोग करे | वयस्क के लिए 0. 15 मिलीग्राम दे सकते है | 

बूढ़े लोगो को इसके सेवन से बचना चाहिए | इससे साइड इफ़ेक्ट की संभावना बढ़ जाती है | हाई ब्लड प्रेशर की लड़कियों को इसे लेने से पहले चिकित्सक की राय अवश्य ले | 

माला ‘डी’के साइड इफ़ेक्ट | mala ‘d’tablet side effect  

यह दवा हर एक व्यक्ति के शरीर पर अलग -अलग तरह से काम करती है | कुछ लोग इसका सेवन अपने आप अधिक मात्रा में करने लगते है | जिससे गंभीर समस्या देखने को मिलती है | 

  • सिर में अचानक तेजी से दर्द का उभरना | 
  • चक्कर आने लगना | 
  • शरीर कमजोर हो जाना | 
  • पीरियड्स के दौरान अधिक मात्रा में खून निकलना | 
  • स्तन कमजोर हो जाना | 
  • छाती में अचानक दर्द उभर जाना | 
  • पेट में दर्द होना | 
  • उल्टी आने लगना | 

माला ‘डी’टेबलेट के लाभ | 

यह महिलाओं को गर्भवती होने से रोकती है | यह अंडाशय मार्ग से अण्डा निकलने को रोकता है | और म्यूकस को गाढ़ा बनाने का काम करता है | 

अगर mala ‘d’लेना भूल गये तो क्या करे ?

अगर किसी कारण वश माला ‘डी’सही समय पर नहीं ले पाये | और दूसरे दिन का dose लेने का समय आ गया है तो पहले दिन की खुराक छोड़कर दूसरे दिन का ही सही समय पर खुराक ले | चिकित्सक का परामर्श अवश्य ले | कभी भी दो दिन का खुराक एक साथ न लेने का प्रयाश करे | 

क्या प्रेगनेंसी के दौरान mala ‘d’का  सेवन कर सकते है ?

इसके लिए आपको डॉक्टर की सलाह अवश्य लेनी चाहिए | गर्भावस्था में इसके सेवन बच्चे पर बुरा असर हो सकता है |